Wednesday, May 16, 2007

ultrasounds

अल्ट्रासाउंड्स
.
विज्ञान का अन्वेषण
अति विचित्र खोज
अल्ट्रासाउंड्स !
.
आवाज से परे
ऐसी आवाजें
जो आवाज नही करतीं !
.
खामोशी से जाकर
चुपचाप टकरा कर
लौट आती हैं !
.
दृष्य पटल पर
करतीं निर्मित बिंब
उसका, जिससे टकराकर आतीं !
.
हमारी सामाजिक रूढियां
संकुचित दष्टिकोण
करतीं दुरुपयोग इस निकाय का !
.
पह्चानकर भ्रूण
पंगु मानसिकता
करती हत्या कन्या भ्रूण की !
.
कवि कुलवंत सिंह

3 comments:

परमजीत बाली said...

सुन्दर रचना है।सुन्दर भाव हैं-

"पह्चानकर भ्रूण
पंगु मानसिकता
करती हत्या कन्या भ्रूण की !"

Anonymous said...

Very good.. Highlights about the social evil..
Sanjay negi

dhiru singh said...

kavita sach main hai bahut sunder hai